अनुपमा 19 फरवरी 2021 रिटेन अपडेट : अनुपमा को पता चला कि पाखी का चोंकाने वाला सच!

अनुपमा रिटेन अपडेट, स्पॉइलर, अपकमिंग स्टोरी, लेटेस्ट न्यूज, गॉसिप एंड अपकमिंग एपिसोड

आज के एपिसोड की शुरुआत अनुपमा ने अपने मोबाइल को देखने से की। नंदिनी अनुपमा से पूछती है कि क्या हुआ। अनुपमा कहती है कि वह पाखी को फोन करने की कोशिश कर रही है लेकिन वह जवाब नहीं दे रही है। नंदिनी कहती है कि पाखी वनराज का जन्मदिन मनाते हुए थक गई होगी और सो रही होगी। अनुपमा कहती है कि हो सकता है। वहां, वनराज वापस घर लौटता है। काव्या वनराज से पूछती है कि क्या वह मंदिर गया था। वनराज ने हाँ कहा और काव्या को प्रसाद दिया। वह पाखी को लापता पाता है और चिंतित हो जाता है। वनराज काव्या से पाखी के बारे में पूछता है। काव्या कहती है कि वह नहा रही थी। वनराज कहता है कि यह पहली बार है जब पाखी ने उसको जन्मदिन की शुभकानाएं नहीं दी। वह काव्या से पूछता है कि क्या उसने पाखी से कुछ कहा है।

काव्या ने वनराज से आरोप नहीं लगाने के लिए कहा। वह वनराज से पाखी की सहेली को फोन करने के लिए कहती है। वनराज कहता है कि उसके पास पाखी की मित्र का नंबर नहीं है। काव्या ने अनुपमा को फोन करने का सुझाव दिया। अनुपमा को वनराज का फोन आता है। नंदिनी अनुपमा से कहती है, पाखी उसके नंबर से फोन कर रही होगी। वह अनुपमा को कॉल रिसीव करने के लिए कहती है। यहाँ, पाखी सड़क पर चलती है और काव्या के शब्दों को याद करती है जहाँ उसने कहा कि पाखी के कारण वनराज के साथ उसकी निजता में बाधा आ रही है। अनुपमा को वनराज का फोन आया और उसने उसे जन्मदिन की शुभकामनाएं दीं। वह वनराज से पूछती है कि क्या सब कुछ ठीक है। वनराज अनुपमा से पूछता है कि उसने कैसे जाना। अनुपमा उसकी आवाज़ की वजह से कहती हैं।

वनराज अनुपमा को बताता है कि पाखी गायब है और पूछता है कि क्या वह घर पहुंची। अनुपमा को पाखी की चिंता हो जाती है। वनराज ने घर जाकर पाखी की तलाश करने का फैसला किया। काव्या ने पाखी को असंवेदनशील कहा और कहा कि उसने लापता होने के लिए आज का दिन लिया। अनुपमा भागकर पाखी को ढूंढती है। वह दरवाजे पर पाखी को देखती है और उसे गले से लगा लेती है। अनुपमा ने पाखी से पूछा कि वह यहाँ क्यों अाई है। पाखी कहती है क्योंकि काव्या को उससे समस्या थी। वह आगे वनराज के जन्मदिन के लिए शाह की व्यवस्था देखती है। नंदिनी पाखी को देखती है और उसका घर में स्वागत करती है।

किंजल और लीला ने भी पाखी को गले लगाया। किंजल पाखी से पूछती है कि वह अकेले घर वापस क्यों आई। पाखी किंजल से पूछती है कि क्या उसे घर में उसकी मौजूदगी पसंद नहीं है। वह कहती है कि किंजल को याद रखना चाहिए कि यह घर उसका भी है। लीला ने पाखी को डांटा। अनुपमा ने पाखी से बात करने का फैसला किया। वनराज को पता चलता है कि पाखी घर पहुंच गई है। काव्या वनराज को बुलाती है और पाखी के बारे में पूछती है। वनराज ने काव्या को बताया कि पाखी घर पहुंच गई है और काव्या पर आरोप लगाया कि वह उसकी बेटी की देखभाल नहीं कर सकती। उसने पूरे घर को संभालने के लिए अनुपमा की तारीफ की। काव्या सोचती है कि यह उसके लिए अच्छा है अगर पाखी वापस वनराज के पास ना लौटे। बाद में, अनुपमा पाखी को खुश करने की कोशिश करती है। पाखी अनुपमा से कहती है कि वह उसे और वनराज दोनों को चाहती है। अनुपमा पाखी को सांत्वना देती है। वह पाखी से वनराज का जन्मदिन मनाने के लिए तैयार होने के लिए कहती है।

पाखी सोचती है कि वनराज और काव्या के पास इस दिन को लेकर दूसरी योजना है। इधर, वनराज घर आता है। शाह वनराज को जन्मदिन की शुभामनाएं देते हैं। वनराज ने पाखी के बारे में पूछा। लीला कहती है कि पाखी अपने कमरे में है। किंजल पाखी से टकराई। पाखी ने किंजल के साथ दुर्व्यवहार किया। किंजल ने पाखी को आत्ममुग्ध कहा। पाखी हैरान रह गई। (एपिसोड समाप्त होता है)

प्रिकैप: वनराज काव्या की जगह अपने परिवार को चुनता है। काव्या ने वनराज सहित शाह से बदला लेने का फैसला किया।