अनुपमा अपडेट: काव्या के इस चोंकाने वाले खुलासे से अनुपमा शॉक्ड, जानिए क्या होगा वनराज का फैसला?

अनुपमा रिटेन अपडेट, स्पॉइलर, अपकमिंग स्टोरी, लेटेस्ट न्यूज, गॉसिप एंड अपकमिंग एपिसोड

आज के एपिसोड में काव्या अनुपमा से कुछ बोलने के लिए कहती है। अनुपमा काव्या से कहती है कि वह जो कहानी बता रही है वह उसके लिए है। वह कहती हैं कि विश्वासघात की व्याख्या नहीं की जा सकती। अनुपमा ने काव्या की तुलना परितोष और वनराज से की। वह काव्या पर असहाय व्यवहार न करने और अपनी गलती मानने का आरोप लगाती है। अनुपमा काव्या से पूछती है कि क्या उसने कभी सोचा कि शाह ने उसे तुरंत स्वीकार क्यों नहीं किया। वह कहती है कि काव्या को स्वीकार नहीं किया गया क्योंकि उसने एक अन्य महिला का घर तोडा था।

   

अनुपमा कहती हैं कि बाद में काव्या को सभी ने स्वीकार कर लिया। वह आगे काव्या पर अनिरुद्ध और वनराज के बीच झूलने का आरोप लगाती है। काव्या अनुपमा से कहती है कि उसने शाह को धोखा नहीं दिया लेकिन एक कमजोर पल में वह अनिरुद्ध के करीब आ गई। अनुपमा काव्या से कहती है कि वह अपने कृत्य का बचाव न करे।


अनुपमा काव्या की गलती मानने से इनकार कर देती है। वह काव्या से कहती है कि अगर वह अनिरुद्ध के करीब जाने की बजाय सराहना करती। अगर वनराज नजरअंदाज कर रहा होता और वह अपने पैरों पर खड़ी होती। अनुपमा काव्या को गलत कहती है। वह काव्या के बच्चे के साथ खड़े होने का फैसला करती है और काव्या को सांत्वना देने से इनकार कर देती है। अनुपमा काव्या से पूछती है कि उसने उसे सच क्यों बताया। वह काव्या से कहती है कि बच्चे की खातिर वह उसके साथ रहेगी लेकिन उसे कभी असहाय नहीं समझेगी। काव्या रोती हुई खड़ी है। अनुज वनराज की मदद करता है। अनुपमा काव्या से कहती है कि उसे अतीत में धोखा मिला है। उसे अपनी 25वीं सालगिरह के दौरान अपने बिस्तर पर वनराज, काव्या को देखना याद है। अनुपमा काव्या पर आरोप लगाती है।


काव्या अनुपमा से कहती है कि जब उसने अनिरुद्ध को बच्चे के बारे में बताया तो वह उससे बचने लगा। वह बताती है कि वनराज ने ध्यान देना शुरू कर दिया था इसलिए उसने अनिरुद्ध के बच्चे को अपना बताया। काव्या कहती है कि वह अब सच्चाई को संभालने की स्थिति में नहीं है और इसलिए उसने सच उगल दिया। वनराज काव्या और अनुपमा की तलाश करता है। अनुपमा काव्या से कहती है कि देर होने से पहले वह वनराज को सच बता दे। काव्या अनुपमा से कहती है कि वह वनराज को सच नहीं बता पाएगी।

अनुपमा काव्या से बच्चे के आने से पहले वनराज को सच बताने का अनुरोध करती है। वह बताती हैं कि सच्चाई अप्रत्याशित रूप से सामने आती है और दुख पहुंचाती है। काव्या अनुपमा से कहती है कि सच्चाई जानने के बाद वनराज उसे बाहर निकाल देगा। अनुपमा काव्या से पूछती है कि अगर ऐसा होता है तो उसे बाहर चले जाना चाहिए और सभी को धोखा देने के बजाय अपना जीवन शुरू करना चाहिए।


काव्या अनुपमा से कहती है कि वह सच नहीं बता पाएगी। अनुपमा काव्या से कहती है कि वह जो चाहे करे लेकिन उसकी वजह से दूसरी महिलाओं को आजादी मिलने का आरोप नहीं लगाया जाना चाहिए। वह कहती हैं कि लंबे समय के बाद महिलाओं को स्वतंत्र और उडने की आजादी मिली और कुछ लोगों की वजह से वे पीडित नहीं हो सकती। काव्या अनुपमा से कहती है कि वनराज यह जानकर बिखर जाएगा कि बच्चा अनिरुद्ध का है। वनराज काव्या और अनुपमा की बातचीत सुन लेता है। [एपिसोड समाप्त]


प्रीकैप: वनराज टूट गया। बरखा ने अंकुश के अवैध बेटे को स्वीकार करने से इनकार कर दिया। वह आगे अनुपमा से पूछती है कि क्या उसने अनुज के नाजायज बच्चे को स्वीकार किया होगा।