गुम है किसी के प्यार में अपडेट : विराट के इस कदम से साईं नाराज!

गुम है किसी के प्यार में रिटेन अपडेट, स्पॉइलर, अपकमिंग स्टोरी, लेटेस्ट न्यूज, गॉसिप एंड अपकमिंग एपिसोड

स्टार प्लस के शो गुम हैं किसी के प्यार में, में एक बड़ा बदलाव देखने को मिल रहा है, जिसमें साई गढ़चिरौली जाना चाहती है। जबकि, चव्हाण सम्राट और पाखी के एक होने से खुश हैं। साईं अब विराट से दूर रहने के बारे में सोच रही है और नाराज़ है, दर्शकों को उनके बहुप्रतीक्षित प्रपोजल के लिए और इंतजार करना होगा। दर्शक शो से कई उम्मीदें रखे हुए हैं, लेकिन यह तो वक्त ही बताएगा कि क्या उम्मीदें हकीकत पर खरी उतरती हैं।

   

वर्तमान ट्रैक में, वैशाली पाखी से पूछती है कि सम्राट इतनी बेरहमी से बातें क्यों कर रहा है। सम्राट को आते देख वे विषय बदल देते हैं। पाखी फिर सम्राट के साथ अनाथालय में रहने का चौंकाने वाला फैसला लेती है। सम्राट हैरान हो जाता है। वैशाली पाखी को समझाने की कोशिश करती है कि वह कैसे अपनी जान दे रही है। सम्राट कहता है कि वह पाखी को मजबूर नहीं कर रहा है। पाखी सम्राट से एक बार उस पर भरोसा करने की कोशिश करने के लिए कहती है। सम्राट कहता है कि उसे समय चाहिए। पाखी सहमत होती है। बाद में, साईं विराट के साथ सभी बातचीत में पाखी को लाने की कोशिश करती है। इस कारण विराट उससे नाराज हो जाता है।

बाद में, पाखी विराट और साई को नाश्ते के लिए बुलाने आती है और फिर से साईं पाखी को ताना मारने लगती है कि वह कैसे दिखावा कर रही है और साई और विराट के बीच आने की कोशिश कर रही है। विराट कहता है कि वह साईं के बिना नहीं रह सकता। जबकि साई जाने पर अड़ी रहती है। विराट ने साई को समझाने की कोशिश की। साई कहती है कि कल से खाना बर्बाद नहीं होगा। साई कॉलेज जाती है और प्रिंसिपल और पुलकित को गढ़चिरौली वापस जाने के अपने फैसले के बारे में बताती है। पुलकित साई को समझाने की कोशिश करता है कि यह कोई समाधान नहीं होगा लेकिन साईं अड़ी रहती है।

इधर, पाखी मूर्ति के साथ आने पर विराट की आरती करने की सोचती है। साईं कॉलेज से वापस आती है इसलिए विराट को मूर्ति लाते देख अश्विनी साई को आरती करने के लिए कहती है। पाखी निराश हो जाती है। भवानी पाखी से सबके लिए मोदक बनाने को कहती है। सम्राट पाखी से पूछता है कि वह साईं को क्यों ताना मार रही है जिसपर पाखी कहती है कि वह जानती है कि साईं को केवल विराट या कमल द्वारा बनाए गए मोदक पसंद हैं। यह सुनकर विराट कहता है कि मैं मोदक बनाऊंगा।

बाद में, साई देवयानी को उसके जाने के बारे में बताती है। देवयानी को पता चल जाएगा कि साई जाने की योजना बना रही है। साई ने उसे बरगलाया ताकि वह ये किसी को न बताए। विराट यह सब सुन लेता है। इधर, सम्राट पाखी से पूछता है कि वह क्यों चाहती थी कि वह मूर्ति लाए। पाखी झूठ बोलती है कि वह उसकी आरती करना चाहती थी क्योंकि उसे कभी मौका नहीं मिला था। सम्राट आश्वस्त हो जाता है। बाद में, साई और विराट का फिर से पाखी की बात पर विवाद होता है।

देवयानी विराट को शांत करने की कोशिश करती है लेकिन वह नहीं होता। देवयानी विराट के साथ तर्क करने की कोशिश करती है कि उसने साई के साथ गलत व्यवहार किया। बाद में, साईं अश्विनी और शिवानी पूजा करते हैं और साई उनकी प्रशंसा करते हुए सोचती है कि वह उन लोगों को धन्यवाद देना चाहती है जिन्होंने हमेशा उसका समर्थन किया। शिवानी को अचानक ये होना अजीब लगता है। शिवानी साई को पूजा के लिए तैयार होने में मदद करती है। इधर, पाखी सम्राट को एक साथ महाबलेश्वर जाने का सुझाव देती है। सम्राट पूछता है लेकिन किस लिए। पाखी उसके लिए कहती है लेकिन फिर सोचती है कि इससे विराट को जलन होगी।

सम्राट सभी को विशेष रूप से साईं के साथ जाने के लिए कहता है। पाखी चिढ़ महसूस करती है। पाखी विराट को ट्रिप के बारे में बताने जाती है। साईं पाखी को ताना मारती है। अश्विनी ने साई से पूछा कि क्या सब ठीक है? अश्विनी को कुछ गलत लगता है। आने वाले एपिसोड में, अश्विनी सोचेगी कि कहीं कुछ गलत तो नहीं। अश्विनी कहेगी कि अगर विराट और साईं अलग हो जाते हैं तो यह अपशगुन लाएगा। साईं कार चलाकर जा रही होगी और अचानक एक बच्चे को बचाने की कोशिश करेगी लेकिन इस दौरान उसके सिर में चोट लग जाएगी। क्या साई विराट से दूर जाएगी? क्या विराट और साई एक-दूसरे को प्रपोज करेंगे?

क्या विराट साई को रोक पाएगा? क्या पाखी विराट के लिए मुसीबत खड़ी करेगी?