गुम है किसी के प्यार में 20 जुलाई 2021 रिटेन अपडेट : साईं ने पाखी और विराट को बहस करने से रोका!

गुम है किसी के प्यार में रिटेन अपडेट, स्पॉइलर, अपकमिंग स्टोरी, लेटेस्ट न्यूज, गॉसिप एंड अपकमिंग एपिसोड

एपिसोड की शुरुआत साईं से होती है जो विराट से पूछती है कि वह उसे हर समय क्यों डांटता है। विराट कहता है कि वह उसे ऐसा करने के लिए मजबूर करती है। बाद में तकिए को लेकर साई और विराट में बहस हो जाती है। विराट कहता है कि कुछ समय बाद वह खुद तकिए को बिस्तर से हटा देगी। साईं कहती है कि उसे लगता है कि इनके साथ उसका एक निजी स्थान है। वह इसे कभी नहीं हटाएगी। साई कहता है कि तकिए की क्या जरूरत है जब उनके बीच एक तीसरा पहिया पहले से मौजूद है। विराट चौंक जाता है और कहता है कि उसे आज इस विषय को नहीं लाना चाहिए। यह केवल एक अतीत था।

साईं कमरे के बाहर पाखी की परछाई को देखती है और उसे पकड़ लेती है। वह पाखी से पूछती है कि वह यहाँ क्या कर रही है। पाखी कहती है कि वह कुछ ताजी हवा लेने के लिए जा रही थी। विराट उससे सवाल करने लगता है कि वह बगीचे में क्यों नहीं गई। वह उनके कमरे के आसपास क्यों घूम रही है। विराट ने फिर परोक्ष रूप से पाखी को साईं को धक्का देने के लिए ताना मारा। पाखी विराट पर धोखा देने और अपना वादा तोड़ने का आरोप लगाने लगती है। विराट कहता है कि पाखी को उससे समस्या है लेकिन वह साईं से बदला क्यों लेना चाहती है, जबकि वह निर्दोष है। पाखी पूछती है कि तुम कह रहे हो कि मैं तुम्हारा बदला लेने के लिए साईं को चोट पहुंचाना चाहती हूं, इसका क्या मतलब है।

साईं ने उन्हें यह कहते हुए चुप करा दिया कि उन्हें कहीं और बात करनी चाहिए, क्योंकि शोर चव्हाण को जगा सकता है। बाद में पाखी साईं को सलाह देती है कि उसे किसी से कुछ भी उम्मीद नहीं रखनी चाहिए। बहुत दुख होता है जब कोई आपका दिल तोड़ता है। साईं कहती है कि उसे कभी किसी से कुछ भी उम्मीद नहीं है। वह खुद पर निर्भर है। इसलिए कोई उसका दिल नहीं तोड़ सकता। उसमें और पाखी में यही अंतर है। अगली सुबह साईं अपना गुल्लक तोड़ती है और पैसे इकट्ठा करती है। विराट चौंक कर उठता है। वह साई से पूछताछ करता है कि उसे पैसे क्यों चाहिए। साईं कहती है कि उसके पास 40 हजार रुपए हैं। वह विराट को 10 हजार रुपये देने के लिए कहती है। वह वादा करती है कि वह उसे ब्याज सहित वापस कर देगी। विराट पूछता रहता है कि वह पैसे कहां खर्च करेगी। वह कोई स्पष्ट स्पष्टीकरण नहीं देती है। वह कहती है कि वह अपने दोस्तों के साथ कुछ खरीदना चाहती है, वह भी एक वयस्क है वह पैसे को व्यर्थ के पीछे खर्च नहीं करेगी।

विराट कहता है भवानी सही कह रही थी, साईं किसी बच्चे से कम नहीं है। साई कहता है कि कमल ने निश्चित रूप से विराट को साई को सामाजिक जीवन से रोकने के लिए नहीं कहा था, साथ ही वह उसे कभी कुछ नहीं बताता कि वह कहाँ जाता है तो वह क्यों बताएगी। साईं बाद में कहती है कि अगर उसने उसे पैसे नहीं दिए तो वह उसकी उपहार में दी गई अंगूठी बेच देगी। यह सुनकर विराट चौंक जाता है और उसे पैसे देता है। वह साईं से पूछता है कि क्या अजिंक्य आएगा या नहीं। साई कहती है कि उसे अजिंक्य से समस्या क्यों है। विराट कहता है कि उसे बस उसकी सुरक्षा की चिंता है, उसे एक अच्छी लड़की की तरह घर वापस आना चाहिए।

साईं कहती है कि वह अपनी कॉलेज लाइफ का पूरा आनंद लेगी। वह अपने दोस्तों के साथ भी एन्जॉय करेगी। विराट कहता है कि उसे देर हो रही है और शाम को पूछेगा कि उसने पैसे कहाँ खर्च किए। साईं कहती हैं कि अगर उसे मन हुआ तो वह बताएगी। अन्यथा नहीं। वह कॉलेज के लिए निकलती है। विराट मुस्कुराता है और कहता है कि आशा है कि साई ऐसा कुछ नहीं करेगी जो मुसीबत का स्वागत करे।

प्रीकैप- साईं कॉलेज से घर वापस नहीं आती है और विराट सभी को बताता है कि साईं 50 हजार रुपये लेकर चली गई है। वह चिंतित हो जाता है। चव्हाण चौंक जाते हैं।