गुम है किसी के प्यार में 5 जून 2021 रिटेन अपडेट : साईं ने उठाया चोंकाने वाला कदम!

गुम है किसी के प्यार में रिटेन अपडेट, स्पॉइलर, अपकमिंग स्टोरी, लेटेस्ट न्यूज, गॉसिप एंड अपकमिंग एपिसोड

एपिसोड की शुरुआत अश्विनी और सोनाली के पार्टी के बारे में चर्चा करने से होती है। निनाद कहता है कि पार्टी खत्म हो गई है, इसलिए उन्हें इस बारे में चर्चा नहीं करनी चाहिए। अश्विनी कहती है कि अब घर में सभी को हरिणी की आदत डाल लेनी चाहिए क्योंकि वह यहां आती-जाती रहेगी। सोनाली परिवार को वारिस देने का विषय लेकर आती है। वह कहती है कि सम्राट यहाँ नहीं है इसलिए मोहित और विराट बचे हैं। भवानी कहती है कि मोहित अपनी जिम्मेदारी लेने में सक्षम नहीं है इसलिए वह एक बच्चे की योजना नहीं बनाएगा।

विराट और साई घर में प्रवेश करते हैं। सोनाली कहती है तो विराट और साईं को बच्चे के लिए प्लान करना चाहिए। अश्विनी कहती है कि साईं अपनी पढ़ाई खत्म कर लेगी तभी वह इन बातों के बारे में सोचेगी। भवानी साई को ताना मारते हुए कहती है कि वह इस बात को लेकर भ्रमित हो जाएगी कि उसे अपने बच्चे को स्कूल के लिए तैयार करना है या वह कॉलेज जाने के लिए तैयार होना चाहती है। साईं चली जाती है। करिश्मा विराट से पूछती है कि वह कब बच्चा पैदा करने की योजना बनाएगा।

पाखी ने उसे यह कहते हुए चुप कर दिया कि विराट को यह तय करने दिया जाए। विराट कहता है कि यह उसका और साई का निजी मामला है। किसी को दखल नहीं देना चाहिए। सोनाली कहती है कि शादी के बाद ये बातें आम होती हैं। हरिणी के जन्मदिन में शामिल होने के लिए विराट ने चव्हाण को धन्यवाद दिया। विराट अपने कमरे की लाइट जलाता है। वह देखता है कि साईं फर्श पर सो रही है। वह उसे बिस्तर पर सोने के लिए कहता है। वह उसे समझाने की कोशिश करता है कि उसके इरादे गलत नहीं हैं। साई कहती है कि विराट खुद को दुनिया का सबसे सच्चा इंसान साबित करने की कोशिश करता है।

विराट कहता है कि उसका परिवार बच्चे के बारे में चर्चा कर रहा था, इसमें उसकी गलती नहीं है। वह यह भी कहता है कि उसका क्या दोष है, जो साई अजीब व्यवहार कर रही है। साईं उसे अपना वादा याद दिलाती है। विराट कहता है कि वह साईं के पिता से किए गए अपने वादे को पूरा कर रहा है। उसने उसे बाहर निकालने के लिए उससे माफी भी मांगी, फिर उसे ऐसा क्यों लगता है कि वह अपना वादा तोड़ रहा है। साई कहती है कि वह पाखी से किए गए उसके वादे के बारे में बात कर रही है, जिसे वह पूरा करने में विफल रहा। विराट चौंक जाता है और कहता है कि वह उसे इस बकवास सवाल का जवाब नहीं देना चाहता।

साई कहती है कि वह सच से दूर भाग रहा है, वह कहती है कि उसे सम्राट के लिए बुरा लग रहा है, अगर वह वापस आता है तो उसे पाखी और विराट के बारे में जानकर बुरा लगेगा। साई मानती है कि विराट और पाखी के रिश्ते के कारण सम्राट चला गया। विराट साईं से गुस्से में पूछता है कि क्या वह सच में ऐसा सोचती है कि उसका भाई उसकी वजह से वापस नहीं आना चाहता? साई कहती है कि विराट के साथ उसकी शादी सिर्फ एक समझौता है और उसे यह नहीं भूलना चाहिए और पाखी से अपना वादा नहीं तोड़ना चाहिए।

विराट घृणा महसूस करता है और साई को और अधिक गुस्सा ना दिलवाने के लिए कहता है। वह यह कहते हुए कमरे से निकल जाता है कि उसने कभी साईं को चोट पहुँचाने की कोशिश नहीं की और न ही वह अपने और पाखी के बीच की सीमाओं को भूला। पाखी उनकी बात सुन लेती है और सोचती है कि साई हृदयहीन है और विराट के साथ बहुत बुरा व्यवहार कर रही है। पाखी विराट को सांत्वना देने की सोचती है। वह भवानी के शब्दों को याद करती है। मोहित दूसरे नाटक के लिए पटकथा लिखने की कोशिश करता है।

अश्विनी उसे सोने के लिए कहती है।अश्विनी ने मोहित के साथ अपना तनाव साझा करते हुए कहा कि साई शायद विराट को पसंद करने लगी है और उसे घर से बाहर नहीं जाना चाहिए। मोहित कहता है कि साई के इस घर में आने के बाद सब कुछ अच्छा चल रहा है। भविष्य में चीजें बेहतर होंगी। विराट साई के शब्दों के बारे में सोचता है। पाखी उसके लिए हल्दी वाला दूध लाती है। वह कहती है कि वह अपने व्यवहार के लिए उससे माफी मांगना चाहती है। पाखी कहती है कि, मुझे पता है कि तुम साईं से बहस करने के बाद यहां आए हो। विराट कहता है कि यह उनका निजी मामला है, पाखी को इससे दूर रहना चाहिए। उसे अपनी सीमा समझनी चाहिए।

पाखी कहती है कि वह हमेशा उसका ख्याल रखेगी। विराट ने दूध पीने से मना कर दिया, पाखी कहती है कि उसे इसे पीना होगा क्योंकि वह अभी तक ठीक नहीं हुआ है। पाखी ने एक बार फिर साईं से अपनी तुलना करते हुए कहा कि वह साईं की तरह हृदयहीन नहीं है। विराट उससे कहता है कि वह ये काम न करे। वह उसे जाने के लिए कहता है लेकिन पाखी कहती है कि वह तब तक नहीं जाएगी जब तक कि विराट दूध नहीं पीता क्योंकि उसने रात का खाना भी नहीं खाया है। विराट किसी तरह दूध खत्म करता है और उससे दूर रहने के लिए कहता है।

प्रीकैप- विराट भ्रमित हो जाता है कि साई उसे पसंद करती है या नहीं। वह कहता है कि वह यह नहीं जान सकता कि वह क्या सोचती है, उसे उसके और पाखी के अतीत से इतनी समस्या क्यों है।