गुम है किसी के प्यार में 8 अप्रैल 2021 रिटेन अपडेट : विराट पावनी लॉज पहुंचा!

गुम है किसी के प्यार में रिटेन अपडेट, स्पॉइलर, अपकमिंग स्टोरी, लेटेस्ट न्यूज, गॉसिप एंड अपकमिंग एपिसोड

आज का एपिसोड विराट के पुलकित के घर पहुंचने के साथ शुरू होता है। पड़ोसियों ने उसे बताया कि उन्होंने पुलकित को ऐसे कपड़े पहने हुए देखा जैसे वह शादी के समारोह में जा रहा हो। विराट ने संगीता के बारे में पड़ोसियों से पूछताछ की और पाया कि वे उसके बारे में कुछ नहीं जानते हैं। सोनाली बताती हैं कि हमें संगीता का पत्र रसोई में जला हुआ मिला। निनाद बताता है कि साईं ने ऐसा किया होगा। ओमकार बताता है कि उसने पुलकित के खिलाफ सबूत मिटाने के लिए ऐसा किया होगा। भवानी ने बताया कि साईं ने यह सब तब किया होगा जब हम बाहर होली खेल रहे थे। पुलकित अपनी बारात और संगीत के साथ आता है।

पुलकित को घोड़े पर देखकर और देवयानी उत्साहित हो जाती है और ख़ुशी से नाचती है। देवयानी बताती है कि मेरी माँ यहाँ नहीं है तो पुलकित का स्वागत कौन करेगा? वह साई से करने के लिए कहती है। माधुरी ने भी ये बताया कि यह शादी केवल तुम्हारे कारण संभव हो पाई है इसलिए तुम्हे पुलकित का स्वागत करना चाहिए। विराट ने तकनीशियन को साई के फोन का अंतिम स्थान का पता लगाने के लिए कहा। साई पुलकित की आरती करती है और उसका स्वागत करती है। वह पुलकित की सास के रूप में रस्म करती है।

पुलकित भावुक हो जाता है और साईं के पैर छूता है, वह बताता है कि आज तुमने सास की तरह मेरा स्वागत किया है इसलिए मैं दामाद के रूप में अपना कर्तव्य पूरा कर रहा हूं। माधुरी कहती है कि तुम्हारे परिवार और विराट को तुमसे सीखना चाहिए। साई सोचती है कि अगर विराट यहां ​​पहुंच गया तो क्या होगा। तकनीशियन बताता है कि पवनी लॉज में 15 मिनट पहले साई का नंबर सक्रिय था।

पुलकित और देवयानी की शादी की शुरुआत होती है। पुलकित ने देवयानी से कहा कि अब हम रस्में पूरी करते हैं। पंडितजी एक- दूसरे को वरमाला पहनाने के लिए कहते हैं। देवयानी ने पुलकित के साथ मंदिर में अपनी शादी को याद किया। पुलकित ने बताया कि हम आज फिर से शादी कर रहे हैं इसलिए कोई हमें अलग नहीं कर पाएगा, आज हमारा लंबा इंतजार खत्म हो गया। पुलकित और देवयानी वरमाला का आदान-प्रदान करते हैं।

साईं देवयानी की ख़ुशी के लिए भगवान से प्रार्थना करती है। साई देवयानी के कन्यादान के लिए आगे अाई। भवानी ने बताया कि विराट के न कहने के बाद भी साई मेरी बेटी के साथ भाग गई, उसने पाखी को विराट को फोन करने के लिए कहा और पूछा कि क्या उसे पता चला कि साई और देवयानी कहां हैं। साई को डर है कि विराट कभी भी यहां आ सकता है। देवयानी पुलकित को रोकती है, जब वह उसके गले में मंगलसूत्र डालने वाला होता है। वह मंगलसूत्र साई को देती है, और साई से पुलकित को देकर उसे पुलकित से मंगलसूत्र पहनाने कहने के लिए कहती है।

पुलकित ने उसे मंगलसूत्र पहनाया और उसकी मांग में सिंदूर भरा। साई पुलकित और देवयानी का गठबंधन करती है और वे फेरे लेना शुरू कर देते हैं। साईं ईश्वर से प्रार्थना करती है कि विवाह संपन्न होने तक विराट यहां न पहुंचें। विराट पवनी लॉज पहुंचता है और उसे पाखी का फोन आता है। विराट ने बताया कि साईं पवनी लॉज में है, वह कहता है कि वह शादी को रोकने के बाद फोन करेगा। भवानी ने बताया कि विराट किसी भी कीमत पर यह शादी नहीं होने दे। पाखी बताती है कि अगर शादी पहले ही खत्म हो गई तो क्या होगा? भवानी ने निनाद और ओमकार को उसके साथ आने के लिए कहा।

पाखी ने बताया कि विराट ने अब तक साईं की सजा तय कर दी होगी। एपिसोड की समाप्ति साई के विराट को उनकी ओर आते देखकर होती है।

प्रीकैप – अगले एपिसोड में भवानी बताएगी कि इतिहास खुद को दोहरा रहा है। विराट पुलकित को बताता है कि वह उसे मानसिक रोगी को बहकाने और उसके परिवार की मर्जी के खिलाफ शादी करने के अपराध के लिए गिरफ्तार करने वाला है, लेकिन साई पुलकित और विराट के बीच में आती है।