शादी मुबारक 13 अप्रैल 2021 रिटेन अपडेट : क्या प्रीति का विशाल की बेटी के साथ रिश्ता खराब हो जाएगा?

शादी मुबारक रिटेन अपडेट, स्पॉइलर, अपकमिंग स्टोरी, लेटेस्ट न्यूज, गॉसिप एंड अपकमिंग एपिसोड

कीर्ति प्रीती के बारे में बुरा-भला बोलती है, जिसपर केटी उग्र हो जाता है और कीर्ति को प्रीती के उसकी माँ होने के बारे में बताता है। कीर्ति चौंक जाती है और केटी को घूरने लगती है। तभी, कौशाला स्थिति को संभालती है और विषय को मोड़ती है। वह कीर्ति को उचित व्यवहार करने की सलाह देती है, जिसपर कीर्ति विद्रोही हो जाती है और प्रीति के बारे में फिर से बुरा बोलती है। केटी उसे दुर्व्यवहार करने के लिए डांटता है और चला जाता है। कीर्ति कौशाला को उसके पिता के व्यवहार से दुखी होने के बारे में बताती है, तभी कौशाला उसके लिए एक लोरी गाती है, जिसपर उसे नींद आ जाती है।

यहाँ, छोटी प्रीति ताज पहनती है और राजकुमारी की तरह व्यवहार करती है। प्रीति ने उसे कीर्ति को भूमिका देने की सलाह दी क्योंकि वह यह चाहती थी। प्रीति गलती से प्रीति के ताज पर कदम रख देती है और वह टूट जाता है। छोटी प्रीति भूमिका देने से इनकार करती है और प्रीति को जानबूझकर उसके मुकुट को तोड़ने के लिए दोषी ठहराती है। विशाल अपनी बेटी का समर्थन करता है, तभी छोटी प्रीति प्रीति के व्यवहार के प्रति अपनी निराशा दिखाती है।

कौशाला केटी की ओर आती है और धीरे से चंदा रे गाती है। वह उसके सामने अपने दिल की बात कहता है, जिसपर वह उसे सांत्वना देती है। वह उसे आग की घटना के बारे में सूचित करता है और अपनी स्थिति को साझा करता है। कौशाला उसे सांत्वना देने की कोशिश करती है, जिसपर वह पूछता है कि क्या वह कभी प्रीति और कीर्ति को साथ ला पाएगा? वह कहता है कि कीर्ति प्रीति से नफरत करती है और वह समझ नहीं पा रहा कि उन्हें पास कैसे लाया जाए।

कौशाला उसे समझाती है कि उसने हमेशा कीर्ति की हर मांग को पूरा किया है और अब उसके लिए उसके इनकार को स्वीकार करना कठिन है। वह उसे विश्वास रखने के लिए कहती है और उसके विश्वास के बारे में याद दिलाती है। वह उसे विश्वास दिलाती है कि सबकुछ ठीक हो जाएगा और उसे गले लगा लेती है। केटी कीर्ति के शब्दों को याद करता है और बेचैन होकर घूमता है। वह कुछ शांति पाने के लिए, प्रीति के घर जाकर उसकी जाँच करने का फैसला करता है।

दूसरी ओर, प्रीति को छोटी प्रीति के दर्द भरे शब्द याद आते हैं और वह उसकी जाँच करने जाती है। वह छोटी प्रीति को देखती है और अपने पैरों पर घाव को नोटिस करती है, जो उसे कीर्ति को आग से बचाने के दौरान हुआ था। प्रीति अपनी चोट का इलाज करने की कोशिश करती है, तभी कीर्तन वहाँ आता है और उसे ऐसा करने में मदद करता है। वह उसे प्यार से देखती है और उसके आने पर सवाल करती है। वह जवाब देता है कि उसे नींद नहीं आ रही थी और बाद में, उसे कीर्ति के दुखी होने की सूचना देता है।

प्रीति पूछती है कि क्या वह कीर्ति के करीब है? जिसपर वह सहमति में सिर हिलाता है और कीर्ति के साथ अपने बंधन के बारे में उसे बताता है। प्रीति कहती हैं कि बच्चे उनकी कमजोरी हैं। वह उसके साथ अपनी पीड़ा साझा करती है, जिसपर वह उसे हिम्मत देता है। वह कीर्ति के बिन मां के होने के बारे में बताता है, जिसपर प्रीति यह कहकर उसे दिलासा देती है कि कभी-कभी उन्हे एक अच्छी सीख देने के लिए बच्चे की मांगों के खिलाफ जाना पड़ता है। वह मुस्कुराता है और उसके प्रति अपनी कृतज्ञता दिखाता है। वह उससे अपनी किसी भी चिंता को साझा करने के लिए कहता है, जिसपर वह उसे घूरती है। वह चला जाता है, जिसपर वह उसे जाते देखती है।

प्रिकैप: – केटी अपनी और प्रीति की कहानी सुनाता है। ह कहता है कि वह हमेशा प्रीति के जीवित होने पर विश्वास करता था। वह कहता है कि उसने प्रीति की दोस्ती पाने के लिए खुद का भेस बदला है और पूछा कि क्या प्रीति कीर्तन से प्यार करेगी? या सच्चाई जानने के बाद उससे दूर चली जाएगी।