शादी मुबारक 20 अप्रैल 2021 रिटेन अपडेट :- प्रीति ने बच्चों को बचाया!

शादी मुबारक रिटेन अपडेट, स्पॉइलर, अपकमिंग स्टोरी, लेटेस्ट न्यूज, गॉसिप एंड अपकमिंग एपिसोड

एपिसोड की शुरुआत प्रीति ने बच्चों को गले लगाकर की और उन्हें आश्वस्त किया। वह उनकी रक्षा करने का वादा करती है, जबकि वे सहम कर रोते हैं। वह उन्हें शांत करती है, जबकि किडनैपर उन्हें खोजता है। प्रीति अपहरणकर्ता को दंडित करने के बारे में सोचती है और अपनी योजना बच्चों को बताती है। वह कीर्ति से फर्श पर तेल डालने के लिए कहती है, जिसपर कीर्ति योजना को अंजाम देती है। फिसलन भरा फर्श होने के कारण अपहरणकर्ता नीचे गिर जाता है और दर्द में कराहता है।

प्रीति बच्चों के साथ भागने की कोशिश करती है, लेकिन दूसरे अपहरणकर्ता ने उसके सिर पर प्रहार किया, जिससे वह बेहोश हो गई। वह नीचे गिर जाती है, जिसपर बच्चे उसकी हालत देखकर घबरा जाते हैं और उसे जगाने की कोशिश करते हैं। बाद में, अपहरणकर्ता प्रीति को कुर्सी से बांध देता है और दृश्य को रिकॉर्ड करना शुरू कर देता है। दूसरी तरफ, कौशाला और प्रियंका अपने टेलीविजन स्क्रीन पर प्रीति की स्थिति देखकर चौंक जाते हैं। गुंडा हँसता है और उन्हें नुकसान पहुँचाने के लिए बच्चों की ओर बढ़ता है।

कीर्ति और छोटी प्रीति मदद के लिए चिल्लाती रहती हैं। प्रीति, विशाल की बेटी के साथ अपने पलों को याद करती है और उसे होश आता है। वह उसे रोकने के लिए गुंडे पर चिल्लाती है। वह उनकी स्थिति का आनंद लेता है, जबकि प्रीति अपनी असहाय अवस्था में रोती है। इसके अलावा, कौशाला और प्रियंका बेचैन हो जाती हैं, तभी विशाल वहां आता है और परिदृश्य को देखकर भयभीत हो जाता है। वे प्रीति और बच्चों की मदद करने के लिए कुछ करने की कोशिश करते हैं, लेकिन सब व्यर्थ हो जाता है।

प्रीति ने अपहरणकर्ता का ध्यान आकर्षित किए बिना, मेज पर एक चाकू देखा और उसकी ओर बढ़ गई। वह चाकू लेकर अपनी रस्सियों को काटती है। वह खुद को मुक्त करती है, जिसपर गुंडे उसे मारने आते हैं। वह उसके वार को चकमा देती है और उसके साथ जमकर लड़ती है। बाद में, वह कीर्ति और छोटी प्रीति की ओर दौड़ती है और उन्हें बचाती है। वह जाने वाली थी, तभी दूसरे अपहरणकर्ता ने उसे पकड़ लिया। वह खुद को उसकी पकड़ से मुक्त करने की कोशिश करती है और फिर उसे लकड़ी के बल्ले से पीटती है। वह बच्चों के साथ छिप जाती है और फोन चेक करती है। वह कॉल करने के लिए नेटवर्क ढूंढने की कोशिश करती है, लेकिन उसे नहीं मिला। वह घबरा जाती है क्योंकि अपहरणकर्ता उसे खोजने की कोशिश करता है। वह उसे देखता है और उसे पकड़ लेता है, जिसपर वह उसे पीटती है और बच्चों को छोड़ने के लिए कहती है।

आगे, पुलिस टिबरेवाल के घर के अंदर आती है, जबकि विशाल और कौशाला प्रीति को अपहरणकर्ता के साथ लड़ते देख कर तनाव में आ जाते हैं। उसी समय प्रियंका एक स्थान प्राप्त करती है और पुलिस को दिखाती है। वे इसके प्रीति का संदेश होने की पुष्टि करते हैं और उन्हें बचाने के लिए जाते हैं। प्रीति बच्चों को दूर भेजने में सफल हो जाती है और अकेले ही अपहरणकर्ता का सामना करती है। वह उसे उसके बच्चों के साथ मारने का फैसला करता है। इस बीच, वह अपने पीछे एक त्रिशूल देखती है और एक विचार प्राप्त करती है। जैसे ही अपहरणकर्ता हमला करने के लिए उसकी तरफ आता है, वह उसे गिराते हुए उसपर त्रिशूल से हमला करती है। यह उसके पेट के अंदर चला जाता है और वह अपनी जगह पर गिर जाता है।

प्रीति का सिर टेबल से टकरा जाता है और बेहोश हो जाती है। कौशाला, प्रियंका और विशाल के साथ पुलिस उस जगह पर पहुंचती है और दृश्य को देखकर दंग रह जाती है। कौशाला और प्रियंका प्रीति के लिए रोते हैं, तभी बच्चे वहां आते हैं और प्रीति के प्रति अपनी चिंता दिखाते हैं। विशाल की बेटी रोती है जिसपर विशाल उसे शांत करता है। पुलिस एम्बुलेंस को बुलाती है, जबकि हर कोई प्रीति के लिए चिंतित होता है।