ये हैं चाहतें अपडेट: रुद्राक्ष असमंजस में, क्या प्रिशा की जान बचा पाएगा?

ये हैं चाहतें रिटेन अपडेट, स्पॉइलर, अपकमिंग स्टोरी, लेटेस्ट न्यूज, गॉसिप एंड अपकमिंग एपिसोड

एपिसोड की शुरुआत रुद्राक्ष से होती है, जो सारांश से पूछता है कि क्या उसका स्टोर रूम का प्लान फ्लॉप होने के कारण वह दुखी दिख रहा है। वह कहता है कि वह सारांश की भावनाओं को समझ सकता है लेकिन अब उसके लिए प्रीशा के साथ फिर से जुड़ना असंभव है। वह उसे याद दिलाता है कि उन्होंने प्रीशा को अरमान से बचाने के लिए क्या – क्या किया। वह कहता है कि प्रीशा अरमान के बारे में सब कुछ जानती है फिर भी उसने अरमान से शादी कर ली। वह कहता है कि वह अपने जीवन में आगे बढ़ रहा है तो सारांश उसे दोष क्यों दे रहा है।

   

सारांश उसे बताता है कि रुद्राक्ष को यह पता लगाने की कोशिश करनी होगी कि प्रीशा यह सब क्यों कर रही है। रुद्राक्ष उसे बताता है कि उसने कोशिश की थी। सारांश उसे बताता है कि रुद्राक्ष ने केवल प्रीशा को दोषी ठहराया। वह कहता है कि अच्छा होता कि रुद्राक्ष न लौटता। वह कहता है कि प्रीशा इस सब से आहत होती है और वहां से चला जाता है। रुद्राक्ष खुद से कहता है कि वह भी यह जानना चाहता है कि प्रीशा ने अरमान से शादी क्यों की। दिग्विजय प्रीशा को याद दिलाता है कि उन्हें अरमान को अस्पताल ले जाना है।

प्रीशा उसे बताती है कि वह डॉक्टर की अपॉइंटमेंट के बारे में भूल गई और वह खरीदारी के लिए पीहू के साथ जाने के लिए तैयार हो गई। वह उसे पीहू के साथ जाने के लिए कहता है क्योंकि वह अरमान को अस्पताल ले जाएगा। वह सोचती है कि उसे अरमान की प्रोग्रेस के बारे में पता होना चाहिए। वह उसे बताती है कि वह अस्पताल जाने के बाद मॉल में पीहू से मिलेगी। वह पीहू को सारी बात बताती है। पीहू मॉल के लिए निकलती है। अरमान ने प्रीशा की साड़ी पर रंग लगा दिया और इससे हाथ साफ किया। प्रीशा उसे डांटती है और कपड़े बदलने के लिए जाती है।

बाद में, प्रीशा मॉल पहुंचती है। कुछ गुंडे उसका अपहरण कर लेते हैं। अपहरणकर्ता रुद्राक्ष को फोन करता है और उसे सूचित करता है कि उसने रुद्राक्ष की पत्नी का अपहरण कर लिया है। वह एक करोड़ रुपये की मांग करता है और कॉल काट देता है। रुद्राक्ष शारदा को बताता है कि पीहू का अपहरण हो गया है। दिग्विजय अरमान के साथ वहां आता है। रुद्राक्ष दिग्विजय को सब कुछ बता देता है। वह उससे कहता है कि उसे पीहू को बचाने के लिए एक करोड़ रुपये चाहिए। वह सोचता है कि वह पीहू और उसके बच्चे को कुछ नहीं होने दे सकता। कुछ देर बाद रुद्राक्ष लोकेशन पर पहुंच जाता है। वह प्रीशा को वहां देखकर चौंक जाता है। वह कहता है कि उसे लगा कि पीहू का अपहरण हो गया है। वह उसे अचेत अवस्था में बॉक्स के अंदर पाता है। वह वहां पीहू को भी देखता है। वह सोचता है कि प्रीशा और पीहू का अपहरण किसने किया। वह किडनैपर से पूछता है कि वह कौन है और उसे क्या चाहिए। किडनैपर उससे कहता है कि उसे सिर्फ पैसे चाहिए। वह कहता है कि रुद्राक्ष एक करोड़ रुपये से सिर्फ एक व्यक्ति को बचा सकता है। वह उससे पूछता है कि उसे प्रीशा और पीहू के बीच किसे बचाना है।

दिग्विजय शारदा से कहता है कि प्रीशा को पता होगा कि पीहू का अपहरण किसने किया क्योंकि प्रीशा पीहू के साथ खरीदारी करने गई थी। वह प्रीशा को फोन करता है लेकिन दूसरी तरफ से कोई जवाब नहीं आता। सारांश को पीहू के अपहरण के बारे में पता चलता है। वह प्रीशा के बारे में चिंतित हो जाता है। रुद्राक्ष किडनैपर से और पैसे का इंतजाम करने के लिए और समय देने को कहता है। अपहरणकर्ता कहता है कि रुद्राक्ष को समय नहीं मिलेगा। वह बक्सों को भरने लगता है। वह कहता है कि बॉक्स भर जाने के बाद प्रीशा और पीहू मर जाएंगे। वह सोचता है कि उसे क्या करना चाहिए।

उसने देखा कि पीहू का डिब्बा दुगनी गति से भर रहा है। वह सोचता है कि उसके पास प्रीशा को बचाने का समय है लेकिन अभी उसकी प्राथमिकता विद्युत के बच्चे को बचाना है। वह किडनैपर से कहता है कि वह पीहू की जिंदगी चुन रहा है। पीहू रिहा हो जाती है।

प्रीकैप – सारांश कहता है कि रुद्राक्ष पीहू को बचाने गया था और रुद्राक्ष आजकल प्रीशा की परवाह नहीं करता है। दूसरी तरफ, प्रीशा सांस लेने के लिए संघर्ष करती है। यह देखकर रुद्राक्ष चौंक जाता है।