ये रिश्ता क्या कहलाता है अपडेट : कायरव के इस फैसले से कार्तिक और नायरा शॉक्ड!

ये रिश्ता क्या कहलाता है 22 अक्टूबर 2020 रिटेन अपडेट | ये रिश्ता क्या कहलाता है रिटेन अपडेट, स्पॉइलर, अपकमिंग स्टोरी, लेटेस्ट न्यूज, गॉसिप एंड अपकमिंग एपिसोड

आज का एपिसोड शुरू होता है, सुहासनी के साथ जो कहती हैं कि नवरात्रि शुरू होने वाली है। सुवर्णा, सुरेखा और गयू नवरात्रि के लिए दुपट्टा तैयार करते हैं। सुहासिनी अक्षरा की वजह से त्योहार मनाने का फैसला करती हैं। नायरा अक्षरा से कहती है कि वह सभी बच्चों में भाग्यशाली है क्योंकि उसे अधिक प्यार मिल रहा है। इस बात पर, गायू ने नायरा को टोका, और कहा कि सभी बच्चे और वत्सल भाग्यशाली हैं।

आगे, कृष्णा आती है और कहती है कि उसने अपनी बहन अक्षरा के दुप्पटे के लिए डिजाइन तैयार किया है। वह नायरा से पूछती है कि क्या वह उस दुप्पटे को अक्षरा की नवरात्रि ड्रेस पर फिक्स कर देगी? सुहासिनी सीधे कृष्ण को इसके लिए ना कह देती है। कार्तिक और नायरा को कृष्णा के लिए बुरा लगता है। वे परिवार और कायरव को ये बात बताने का निर्णय लेते हैं कि उन्होंने गोद लेने के कागजात पर हस्ताक्षर किए हैं।

इधर, कृष्ण को चोट लगती है। नायरा उसे देखती है। दूसरी तरफ, कायरव वंश और कृष को बताता है, कि क्यों कायरा कृष्णा को उसकी बहन बनाने की कोशिश कर रहे हैं, अपने वादे के बावजूद। वह कहता है कि वह कोई बहन नहीं चाहता है। कृष कहता है कि, माता-पिता बच्चों के बारे में नहीं सोचते। जिसपर, वंश भी कहता है कि उसके पिता उससे प्यार नहीं करते। कायरव, कायरा से बात करने का फैसला करता है।

Also, Watch Video of Today’s Episode Update :-

कायरव कार्तिक और नायरा के पास जाता है और स्तब्ध रह जाता है। वह देखता है कि कायरा कृष्णा को उसकी पसंदीदा डिश खिला रहे थे। वह कार्तिक और नायरा के साथ के अपने पलों को याद करके रोता है। इधर, कार्तिक और नायरा, कायरव का इंतजार कर रहे होते हैं। कृष्ण भोजन की प्रशंसा करती है। कायरव घर से निकलता है और मनीष को गले लगा लेता है। मनीष, कायरव से पूछता है कि वह परेशान क्यों है।

इस बीच, कार्तिक और नायरा बिना अधिक समय बर्बाद किए, तुरंत कायरव से बात करने का फैसला करते हैं। वहां, कायरव मनीष को बताता है कि उसने कार्तिक और नायरा को गोद लेने के कागजात पर हस्ताक्षर करते देखा है। मनीष, कायरव को सांत्वना देता है और कहता है कि वह कार्तिक और नायरा के साथ बात करेगा। कार्तिक और नायरा आते हैं और कायरव से पूछते हैं कि उसको क्या हुआ है। पर, कायरव वहां से चला जाता है।

मनीष से कार्तिक और नायरा को पता चलता है कि कायरव को पता है कि उन्होंने गोद लेने के कागजात पर हस्ताक्षर किए हैं। वह कृष्णा को अपनाने के लिए कायरा पर गुस्सा होता है। नायरा, कायरव के पीछे जाती है। मनीष कार्तिक को किसी की बात न सुनने के लिए डांटता है।

कार्तिक मनीष को उसकी दूसरी शादी के बारे में याद दिलाता है और उसे समझाने की कोशिश करता है कि जैसे, उसका प्यार कभी फीका नहीं हुआ, इसलिए वह भी मानता है कि उसका प्यार कभी कायरव या अक्षरा के लिए फीका होगा। कार्तिक अपनी बेटी को जोड़ता है जिसे वे पहले खो चुके हैं, वो कहता है कि वो कृष्णा के रूप में वापस आ गई है। दूसरी तरफ, कायरव, नायरा से पूछता है कि उसने कृष्णा को उसकी बहन क्यों बनाया।

आगे, वह नायरा से पूछता है कि क्या वह अब उसे पसंद नहीं करती है। जिसपर, नायरा ने कायरव को गले लगा लिया। इसके अलावा, मनीष और सुहासिनी ने कार्तिक के फैसले का विरोध किया। पर, कार्तिक कृष्णा को अपनाने के लिए अडिग गया। मनीष कहता है कि उन्हें उस लड़की को गोयनका की उपाधि देने में समस्या है।

इस बीच नायरा, कायरव को समझाने की कोशिश करती है। जिसपर, कायरव, नायरा से कहता है कि वह कृष्ण को भोजन और कपड़े दे सकती है, और उसे नहीं अपनाने का आग्रह करता है। (एपिसोड समाप्त होता है)

प्रीकैप- कायरव दोबारा गुस्सा हो गया|