ये रिश्ता क्या कहलाता है 22 अक्टूबर 2023 अपडेट: अक्षरा के इस चोंकाने वाले कदम से क्या बढ़ जाएगी दूरियां?

ये रिश्ता क्या कहलाता है रिटेन अपडेट, स्पॉइलर, अपकमिंग स्टोरी, लेटेस्ट न्यूज, गॉसिप एंड अपकमिंग एपिसोड

आज के एपिसोड में स्वर्णा अक्षरा की रिपोर्ट चेक करती है। वह अक्षरा की देखभाल करने का फैसला करती है। मनीष यह सुनिश्चित करने की जिम्मेदारी लेता है कि अक्षरा खाना पूरा कर दे। कायरव अक्षरा को कोर्ट में छोडने का फैसला करता है। मुस्कान मेहंदी कोन लाती है। गोयनका परिवार करवा चौथ मनाने के लिए उत्साहित है। सुरेखा अभिमन्यु की तलाश करती है। मुस्कान अक्षरा से अभिमन्यु का इंतजार न करने के लिए कहती है। अभिमन्यु मुस्कान से सहमत है। उन्हे गोयनका का समर्थन मिलता है।

   

अक्षरा का कहना है कि यह गलत है क्योंकि हर कोई अभिमन्यु के पक्ष मे है। आरोही सोचती है कि अभिमन्यु ने अक्षरा को सच बताया है। अभिमन्यु आरोही को अलग से बुलाता है। आरोही अभिमन्यु से अक्षरा को सच बताने के लिए कहती है। अभिमन्यु का कहना है कि वह नही चाहते कि अक्षरा के साथ इतिहास दोहराया जाए। उसे नौकरी और घर न होने का अफसोस है। अभिमन्यु सच छिपाने का फैसला करता है। अक्षरा अभिमन्यु और आरोही से पूछती है कि वे क्या छिपा रहे है। अभिमन्यु और आरोही बात भटकाते है।


महिमा शेफाली से पूछती है कि क्या वह पार्थ के लिए व्रत रख रही है। शेफाली कहती है कि वह अक्षरा के लिए सरगी ले रही है। मंजरी शेफाली को गोयनका हाउस जाने से रोकती है। महिमा मंजरी के बारे में बात करती है। मंजरी अभिमन्यु को अस्पताल से बाहर निकालने के बारे में महिमा से बात करती है। मंजरी जिद पर अड जाती है। शेफाली महिमा से पूछती है कि क्या उसे अक्षरा से मिलने जाना चाहिए या नही।


अभिमन्यु अपने साक्षात्कार की तैयारी करता है। अक्षरा अभिमन्यु से पूछती है कि वह क्यों जाग रहा है। अभिमन्यु का कहना है कि वह काम कर रहा है। गोयनका परिवार करवा चौथ की तैयारी कर रहा है। अभिमन्यु अक्षरा से परिवार न दे पाने के लिए माफी मांगता है। शेफाली अक्षरा के लिए सरगी लाती है। अभिमन्यु शेफाली से पूछता है कि क्या मंजरी भी आई थी। शेफाली कहती है कि मंजरी नहीं आई। अभिमन्यु परेशान हो जाता है।


मंजरी को यह सोचकर चिंता होती है कि अक्षरा अभिनव के बच्चे को पालने में सक्षम नहीं होगी। वह उम्मीद करती है कि अभिमन्यु अक्षरा को समझेगा और आगे बढ़ेगा। अभिमन्यु नाश्ते के लिए लौटता है। अक्षरा को आश्चर्य होता है कि क्या अक्षरा उसके लिए उपवास कर रही है। वह अभिमन्यु को क्रॉस-चेक करने जाती है। अभिमन्यु ने भी यह जांचने का फैसला किया कि अक्षरा उपवास कर रही है या नहीं। अक्षरा और अभिमन्यु एक दूसरे से झूठ बोलते है। दोनो एक दूसरे के लिए कदमताल मिलाए रखते है।


अभिमन्यु नौकरी की तलाश में है। अक्षरा को पता चलता है कि अभिमन्यु बेरोजगार है। वह आरोही और महिमा की बातचीत सुनती है। अक्षरा सोचती है कि अभिमन्यु उसकी वजह से सब कुछ खो रहा है। उसे अभिमन्यु के लिए कुछ न कर पाने का अफसोस है।
अभिमन्यु ज्वाइनिंग से पहले पितृत्व अवकाश की मांग करता है। अक्षरा अभिमन्यु की मांगों और पछतावे को सुन लेती है। इससे पहले कि अभिमन्यु उसे देख ले वह खुद को छुपा लेती है। अभिमन्यु को अक्षरा की मौजूदगी का एहसास होता है। -एपिसोड समाप्त


प्रीकैप: अक्षरा गोयनका को बताती है कि अभिमन्यु ने अपनी नौकरी छोड दी है। वह एक डॉक्टर से अभिमन्यु को नौकरी न देने के लिए कहती है। अभिमन्यु अक्षरा से भिड जाता है।