ये रिश्ता क्या कहलाता है 7 नवंबर 2022 रिटेन अपडेट: मंजरी के इस फैसले से अक्षरा और अभिमन्यु की जिंदगी में आएगा चौंकाने वाला ट्विस्ट!

ये रिश्ता क्या कहलाता है रिटेन अपडेट, स्पॉइलर, अपकमिंग स्टोरी, लेटेस्ट न्यूज, गॉसिप एंड अपकमिंग एपिसोड

आज के एपिसोड़ में, अभिमन्यु बारातियों को उनकी उपस्थिति के लिए धन्यवाद देता है। मंजरी ने अक्षरा का स्वागत करने का फैसला किया। बिरला ने मंजरी का समर्थन करने का फैसला किया। महिमा चेहरे बनाती है। अभिमन्यु अक्षरा को घर ले जाता है। मंजरी अभिमन्यु और अक्षरा को घर में प्रवेश करने के लिए कहती है। अक्षरा और अभिमन्यु घर में प्रवेश करने से पहले एक-दूसरे से बात करने का फैसला करते हैं। मंजरी नाराज हो जाती है। नील और हर्ष मंजरी को अक्षरा और अभिमन्यु को बातचीत करने देने के लिए मना लेते हैं। अभिमन्यु अक्षरा को परेशान न होने के लिए कहता है।

   

हर्ष मंजरी से अक्षरा और अभिमन्यु को बातचीत करने देने के लिए कहता है। वह उनके लौटने तक इंतजार करने को कहता है। मंजरी को देखकर महिमा मुस्कुराती है। कायरव गोयनका को अक्षरा के अभिमन्यु को स्वीकार करने के बारे में बताता है। मनीष कहता है कि वे अक्षरा की खुशी में खुश हैं। अक्षरा और अभिमन्यु का तलाक देखने के लिए आरोही कोर्ट में इंतजार करती है। अक्षरा और अभिमन्यु के वकील दोनों का इंतजार करते हैं। अक्षरा और अभिमन्यु एक साथ बैठकर बात करते हैं।

महिमा ने अक्षरा के खिलाफ मंजरी को भड़काया। वह कहती है कि अक्षरा को अभिमन्यु के प्यार का फायदा होता है। महिमा कहती है कि अक्षरा अभिमन्यु को बचा हुआ अटेंशन देती है। वह मंजरी को समझाती है कि अक्षरा गोयनका को महत्व देती है और अभिमन्यु के प्यार को कम आंकती है। महिमा ने मंजरी को अलर्ट किया। मंजरी अक्षरा को समझती है। अभिमन्यु अक्षरा से कहता है कि उसकी बारात उसकी पालकी से बेहतर थी। अक्षरा हैरान हो जाती है। अभिमन्यु ने अक्षरा को बताया कि उसका सरप्राइज अच्छा था। बिरला अभिमन्यु और अक्षरा का इंतजार करते हैं।

अक्षरा ने अभिमन्यु से अपने मन की बात कही। वह अभिमन्यु के साथ अपनी असुरक्षा साझा करती है। अक्षरा अभिमन्यु से कहती है कि उसे दिल टूटने का डर है इसलिए उसने दूसरा मौका देने का तय करने के लिए अपना समय लिया। अभिमन्यु अक्षरा से कहता है कि वह उसे समझता है। वह अक्षरा से कहता है कि वह उसके डर को समझ सकता है लेकिन कभी-कभी डर व्यक्ति के दिल में खालीपन छोड़ देता है। अक्षरा ने अपना फ्लैशबैक याद किया। वह अभिमन्यु को बताती है कि वह सड़क पर एक दुर्घटना को देखकर डर गई थी। अक्षरा कहती है कि उसे उसको खोने का डर है इसलिए उसने उसके जीवन में वापस प्रवेश करने का फैसला किया।

वास्तविकता में वापस; अक्षरा अभिमन्यु से कहती है कि वह यह सोचकर डर गई कि उसे कुछ हुआ है। अभिमन्यु ने अक्षरा के आंसू पोंछे। अक्षरा कहती है कि वह समझती है कि, दूसरे मौके में प्यार से ज्यादा भरोसा भी उतना ही मायने रखता है। वह अभिमन्यु के प्यार को स्वीकार करती है। अभिमन्यु अक्षरा को उसके जीवन में वापस आने के लिए धन्यवाद देता है। अक्षरा कहती है कि वह हमेशा से उसके जीवन में रहना चाहती थी। अभिमन्यु और अक्षरा हाथ में हाथ डाले चलने और अपने जीवन की बाधाओं से निपटने का फैसला करते हैं। दोनों एक-दूसरे पर दोहरा भरोसा करने और पहले से ज्यादा प्यार बरसाने का फैसला करते हैं।

अभिमन्यु मंजरी से स्वागत करने के लिए कहता है क्योंकि अक्षरा तैयार है। मंजरी और बिड़ला अक्षरा का स्वागत करते हैं। शेफाली अक्षरा से घर में दोबारा एंट्री करने से पहले फिर से दीवार पर हैंड प्रिंट लगाने को कहती हैं। अभिमन्यु भी अक्षरा का समर्थन करने के लिए रस्म करता है। मंजरी परेशान हो जाती है। [एपिसोड समाप्त]

प्रीकैप: मंजरी अक्षरा को अभिमन्यु का दिल तोड़ने के बारे में सचेत करती है। वह कहती है कि वह आगे से अभिमन्यु की आंखों में आंसू नहीं सह सकती। अक्षरा चुप रहती है।