ये रिश्ता क्या कहलाता है: अक्षरा और अभिनव के इस कदम से अभिमन्यु को लगा बड़ा झटका!

आज के एपिसोड़ में अभीर गोयनकास से कहता है कि वे उसके साथ कसौली चलेंगे। गोयनका ने अभीर से वादा किया। मनीष अभीर से कहता है कि उसके जाने के बाद वे सब उसे याद करेंगे इसलिए उन्हें कसौली में उससे मिलने आना होगा। कायरव कहता है कि कसौली आने के बाद वे अक्षरा और अभिनव को परेशान करेंगे। अक्षरा कहती है कि वह उस दिन का इंतजार करेगी। गोयनका आंसू बहाते हैं। अभीर गोयनका से पूछता है कि वे इतना भावुक क्यों हो रहे हैं। सुहासिनी कहती है कि कोई नहीं रोएगा। अभीर सुहासिनी को कूल कहता है। अभिनव कहता है कि उन्हें चले जाना चाहिए क्योंकि उन्हें मुस्कान को हॉस्टल छोड़ना है।

मनीष मुस्कान से कहता है कि उसे अच्छा नहीं लग रहा है कि घर होते हुए भी उसे हॉस्टल में रहना पड़ रहा है। वह मुस्कान से कभी अकेला महसूस न करने के लिए कहता है। मुस्कान मनीष को समय पर दवा लेने के लिए कहती है क्योंकि वह अक्सर भूल जाता है। अभिमन्यु अभीर से मिलने के लिए उत्साहित हो जाता है। वह मंजरी को बताता है कि शिविर में उसने अभीर के लिए आशीर्वाद अर्जित किया था। मंजरी याद करती है कि आरोही और शेफाली ने अक्षरा को अभीर को कसौली ले जाने की सलाह दी थी।

   

वास्तविकता में वापस; मंजरी अभिमन्यु को बताती है कि अक्षरा और अभिनव अभीर को लेकर वापस कसौली चले गए। वह कहती है कि सर्जरी तक दोनों ठीक थे और अब असली रंग दिखा रहे हैं। अभिमन्यु मंजरी से पूछता है कि उसने उन्हें रोका क्यों नहीं। मंजरी कहती है क्योंकि वह उसकी आंखें खोलना चाहती थी। वह अभिमन्यु को आंखें खोलने और सच्चाई देखने के लिए मना लेती है। अभिमन्यु गुस्से में आगबबूला हो गया। हाउस हेल्पर कायरव को मुस्कान का पर्स देता है। कायरव सोचता है कि मुस्कान ने अपनी दुनिया पर्स में रख ली है। वह मुस्कान के पर्स में रखे नोट पढ़ता है।

कायरव ने उसके लिए मुस्कान का लिखा नोट पढ़ा। मुस्कान चाहती थी कि कायरव की मुस्कान वापस आ जाए। अभीर कसौली वापस लौटकर खुश हो जाता है। नीलिमा पड़ोसियों के साथ अक्षरा, अभीर और अभिनव का वापस स्वागत करती है। अभीर अपने दोस्तों को वापस देखकर खुश हो जाता है। अभिमन्यु अक्षरा को फोन करने की कोशिश करता है। वह सोचता है कि अक्षरा ने जानबूझकर अपना फोन बंद कर दिया है। अभिमन्यु अक्षरा को बार-बार फोन करता है। लंबे समय बाद अपना घर देखकर अक्षरा, अभिनव और अभीर खुश हो जाते हैं। आरोही अभिमन्यु को समझाने की कोशिश करती है कि अक्षरा ने जानबूझकर कुछ नहीं किया है।

अभिमन्यु कहता है कि अक्षरा ने 2 दिन इंतजार किया होता। आरोही अक्षरा का बचाव करती है। अभिमन्यु दावा करता है कि अक्षरा अभीर को उससे छीनना चाहती है। अक्षरा और अभीर मनीष से कॉल पर बात करते हैं। अभिमन्यु ने अपने वकील को फिर से हिरासत का दावा करने के लिए फोन किया। मंजिरी सोचती है कि वह कैसे भी अभीर को घर में देखना चाहती है।

अक्षरा यह सोचकर आंसू बहाती है कि वह चिंतित थी कि वे घर वापस नहीं लौटेंगे। अभिनव ने अक्षरा को सांत्वना दी। अक्षरा और अभिनव अलग – अलग बेड बनाते हैं। अभिनव अक्षरा की गायकी की तारीफ करता है। वह अक्षरा से गाना सुनना चाहता था। अक्षरा अभिनव के लिए गाना गाती है। अभिनव मंत्रमुग्ध हो जाता है। [एपिसोड समाप्त]

प्रीकैप: अक्षरा ने होम स्टे बिजनेस शुरू किया। अभिमन्यु शर्मा के घर रहने आता है। अक्षरा स्तब्ध खड़ी थी।